Monday, May 7, 2018

चौपई छंद :- - श्री जगदीश "हीरा" साहू

*ट्रैफिक सिग्नल देख के*

संगी सिरतों कहना मान। हवय कीमती सबके जान।
गाड़ी चलत हवय अनलेख। रेंगव ट्रैफिक सिग्नल देख।।1।।

हरा कहत हे जल्दी जाव। कहय पींवरा धीरे आव।।
लाल कहय तुरते रुक जाव। जानव येला उमर बढ़ाव।।2।।

डेरी बाजू रेंगत जाव। कभू कहूँ धोखा नइ पाव।।
सड़क नियम ला जानव आज। इही हवय गा सुख के राज।।3।।

करना हवय सड़क ले पार। पहिली दाँया देखव यार।।
फेर देख लव बाँया ओर। आगू देखव उहाँ अगोर।।4।।

खाली हे जब दूनों छोर। पार करव जी कोरे-कोर।।
रस्ता देखत हे परिवार। इही बात हे जग मा सार।।5।।

चढ़व साइकिल करके चेक। राहय जेमा पुख्ता ब्रेक।
अलवा-जलवा ला दव फेंक। नइते राखव घर मा छेंक।।6।।

गाड़ी झन चलावव रेस। मारव झन गा ओमा टेस।।
बस दूये झन चढ़के जाव। जिनगी भर जी मजा उड़ाव।।7।।

हेलमेट जे राहय ठीक। रोज लगावव होवय नीक।।
करव कभू झन ओवरटेक। झनकर जल्दी कभू अतेक।।8।।

दारू पीके जेन चलाय। दुर्घटना ला अपन बलाय।।
जे गाड़ी मा करथे होड़। घर बइठय वो हड्डी तोड़।।9।।

मानुस जीवन हे अनमोल। रेंगव सबझन आँखी खोल।।
दिये हवय सबला भगवान। अपन बरोबर सबला मान।।10।।

रचनाकार - श्री जगदीश "हीरा" साहू
कड़ार (भाटापारा)
छत्तीसगढ़

30 comments:

  1. वाह्ह्ह् जगदीश भाई, ट्रैफिक नियम के बढ़िया जानकारी देत सुग्घर छंद

    ReplyDelete
    Replies
    1. धन्यवाद इजारदार

      Delete
    2. धन्यवाद भाई जी

      Delete
    3. धन्यवाद भाई जी

      Delete
  2. वाहहहहहहह वाहहह बड़ सुग्घर संदेश धरे शानदार चौपई
    छंद

    ReplyDelete
    Replies
    1. धन्यवाद अहिलेश्वर जी

      Delete
    2. धन्यवाद अहिलेश्वर जी

      Delete
  3. शानदार छंद लिखे हावस जगदीश, तोला बहुत - बहुत बधाई।

    ReplyDelete
  4. वाहःहः जगदीश भाई
    बहुत बढ़िया चौपई छंद

    ReplyDelete
    Replies
    1. धन्यवाद दीदी

      Delete
    2. धन्यवाद दीदी

      Delete
  5. सुग्घर संदेश चौपई छन्द

    ReplyDelete
    Replies
    1. आभार कौशल भइया

      Delete
    2. आभार कौशल भइया

      Delete
  6. बहुत बढ़िया चौपाई बधाई हो

    ReplyDelete
    Replies
    1. धन्यवद असकरन भाई

      Delete
    2. धन्यवद असकरन भाई

      Delete
  7. बहुत बढ़िया चौपाई बधाई हो

    ReplyDelete
  8. Replies
    1. धन्यवाद भइया जी

      Delete
  9. बहुत सुन्दर रचना के लिए बधाई भैयाजी

    ReplyDelete
    Replies
    1. अइसने साथ मिलत रहय भइया जी

      Delete
    2. अइसने साथ मिलत रहय भइया जी

      Delete
  10. बहुत सुन्दर रचना के लिए बधाई भैयाजी

    ReplyDelete
  11. वाह वाह बेहतरीन चौपई छंद हे।हीरा भाई। बधाई अउ शुभकामना हे।

    ReplyDelete
    Replies
    1. धन्यवाद भइया जी

      Delete
    2. धन्यवाद भइया जी

      Delete
  12. धन्यवाद भइया जी

    ReplyDelete
  13. धन्यवाद भइया जी

    ReplyDelete